इस दुकान का नाम का यह सफर इतना आसान नहीं था। इनके लिए उन्होंने कई सालों से मेहनत किया।

छोटे से ठेले से शुरू हुआ था जो कारवां, वो चल पड़ा, और आज सिलसिला बन गया, पहलवान जी का ये छोटा सा बिज़नेस आज ब्रांड गया

आपने तो आज तक कई सारे व्यंजनों के बारे में सुना होगा। हर राज्य का एक खास व्यंजन होता है।…

Continue reading
लाखों की नौकरी छोड़ शुरू किया मछली का चारा बेचने का बिजनेस

विदेश की जिस जॉब के लिए तरसते है लोग, वही नौकरी छोड़कर आया ये शख्स, और जोखिम उठाकर शुरू किया है, ये काम, और आज…

भारत में रोजगार ,सबसे ज्यादा खेती विभाग में ही मिलता है। भारत के लोग और किसी काम से ज्यादा खेती…

Continue reading
भवानी सिंह भाटी जी ,राजस्थान के जोधपुर की ओसियां तहसील के बिरलोका के रहनेवाले हैं।

जूस बेचकर खरीदे अपने सपने, 20 बार हुए असफल, लेकिन मंज़िल नहीं छोड़ी, और आज बन गए है, RPSC के PTI

सिविल की परीक्षा, आईएएस बनने का सपना ना जाने कितने युवाओं का होता है। जरा दिल्ली के मुखर्जी नगर में…

Continue reading
नारायण एस भट (Narayan S Bhat) का जन्म 1953 में उत्तर कन्नड़ जिले के सिरसी गांव में हुआ था।

उम्र 70 की हो गयी, लेकिन पढ़ाई से मन नहीं भरा, नौकरी के बाद भी इस उम्र में 94.88% लाकर चौंकाया सभी को इस शख्स ने

जब पढ़ने की चाह हो तो रुकना क्या। जब आगे बढ़ना है तो झुकना क्या। उम्र की क्या कद्र करें?…

Continue reading
रुचि गोयल जी को बचपन से ही कला करने का शौक था।

बचपन में माँ के साथ घर संवारा करती थी, लेकिन कब वो कला बन गयी पता नहीं चला, आज बेकार पड़े कबाड़ से बना डाली ये गज़ब की चीज़, कि आप भी…

कला तो आपने कई तरह की देखी होगा, लेकिन दोस्तों आज की दुनिया में ऐसे कई तरह की कला आए…

Continue reading
महाराष्ट्र , पुणे में एफसी रोड पर स्थित एक खास रेस्टोरेंट है ,जिसका संचालन सिर्फ दिव्यांग लोग ही करते हैं।

शारीरिक कमजोरी और दिक्कत होने के बावजूद भी यह दिव्यांग बच्चे संचालित कर रहे हैं ये अनोखा ढाबा, और कमा रहे हैं खूब सारा नाम

आज के समय में रोजगार मिलना बहुत ही कठिन हो गया है। आजकल समाज में बेरोजगारी इतनी बढ़ गई है…

Continue reading
झांसी स्थित, एक दुकान की जिसका संचालक शिवानी प्रजापति करती हैं।

परिवार का बोझ हल्का करने के लिए शुरू किया ठेला लगाना, लो आज आ गई है , गर्व दिलाने वाली बेटी , जिनके दुकान का नाम है डीएलएड परांठे वाली

आजकल महंगाई इतनी बढ़ गई है ,कि अगर पूरा परिवार किसी एक सदस्य पर रोजी-रोटी और कमाई के लिए निर्भर…

Continue reading
राजस्थान में रहनेवाली शोभा माथुर , जो रावतभाटा के एक सरकारी स्कूल में बतौर शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं।

ज़िंदगी के सफर में पति ने साथ छोड़ दिया, तो हो गयी थी डिप्रेशन का शिकार, बच्चो ने दी हिम्मत, तो वेट लिफ्टिंग में बन गयी गोल्ड मैडल चैंपियन

आज के इस नए युग में महिलाएं तरक्कियों को छू रही है। नई-नई ऊंचाइयों को छू रही है। कौन सा…

Continue reading
मनीषा एक इंजीनियर है। और उन्होंने अपने इस कला को बखूबी निखारा है।

बचपन से ही कला का शौक था, लेकिन परिवार की इच्छा के लिए नौकरी चुनी, और दुबई से लाखो की नौकरी छोड़कर बना डाला ये अद्बुध घर, जिसमे कीड़े नहीं….

करोना काल में किसी ने घर को खोया, तो किसी को अपने देश से दूसरे देश जाना पड़ा। दूसरे देश…

Continue reading
विनीशा अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद शाम 4 बजे से लेकर रात के 8 बजे तक ,ठेला लगाकर मूँगफली बेचती हैं।

पापा क़र्ज़ में थे, तो बिटिया ने सम्भाली परिवार की ज़िम्मेदारी, स्कूल के बाद छुट्टी में बेचती मूंगफली, करती है गुज़ारा

पैसा कमाने और अपना पेट पालने के लिए ना जाने लोग क्या नहीं करते हैं। कभी वह ठेला लगाकर छोले…

Continue reading
अमरीश पूरी बिहार के कैमूर जिले के भगवानपुर प्रखंड के रहने वाले हैं।

बिहार के लाल ने किया कमाल, जिस भूसे को लोग समझते है बेकार, उसी भूसे से बना डाली 900 फिट की मनमोहक रंगोली, वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज़ हुआ नाम

” जहाँ चाह वहाँ राह ” ये पंक्ति तो आप सभी ने कभी कही ना कही पढ़ी होगी। आज हम…

Continue reading
यह नेत्रहीन बच्चे जो की मोमबत्ती बनाते हैं, वह चंडीगढ सेक्टर 26 में रहने वाले हैं।

ये नन्हे-नन्हे बच्चे भले ही नेत्रहीन है, लेकिन कर रहे है कई घरो को रोशन, मोमबत्ती बनाकर दे रहे है रौशनी, कमाल है

आंखें भगवान की वह देन होती है ,जिससे हम इस दुनिया की खूबसूरती को देख पाते हैं। यह दुनिया कितनी…

Continue reading