“तुम्हारा जीवन हमारे लिए प्रेरणा है बेटी”, कहा मोदी जी ने, पूजा गेहलोत के गोल्ड मैडल न लाने पर बढाया होंसला

पूजा गहलोत ने गोल्ड मेडल न मिलने पर मांगी देश से माफ़ी

कोंवेअल्थ गेम्स में हर बार दुनिया के कई देश हिस्सा लेते है। और हर बार भारत देश भी इसमें कई मैडल जीतता है। और हम भी आपके कई ऐसी सफलता की कहानी लेकर आते है। और ये प्रयास करते है, कि आप उससे प्रेरित हो सके। और आज की कहानी एक ऐसी लड़की की है, जिसने कामनवेल्थ गेम में गोल्ड मैडल नहीं जीत पायी। और गोल्ड मैडल न जीत पाने के लिए पुरे भारत से माफ़ी मांगी। और उसके बाद देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने उस बेटी को प्रोत्साहित किया है। और ऐसा उन्होंने ट्वीट के जरिये किया था। लेकिन उनके इस ट्वीट के बाद ये बेटी बहुत चर्चा में आ में गयी। और उन्होने प्रोत्साहित करने लगते है। और ये वाकई सही भी है। इंसान हताश होने से अच्छा है, जो हासिल किया है, उस पर ख़ुशी महसूस करता रहे। और यही इस जीवन का खुश रहने का सही उद्देशस्य भी होना चाहीये। उस बेटी का नाम है पूजा गेहलोत। जिन्होंने भारत को इस बार के कामनवेल्थ गेम्स में कुश्ती में कांस्य पदक दिलाया। और इस बार वह बहुत दुखी थी। और पुरे भारत से माफ़ी मांग रही है।आईये जानते है इस पर नरेंद्र मोदी की क्या प्रतिक्रिया रही है।

नरेंद्र मोदी जी ने किया प्रोत्साहित
नरेंद्र मोदी जी ने किया प्रोत्साहित

पूजा गेहलोत नरेंद्र मोदी जी ने किया प्रोत्साहित

कामनवेल्थ गेम्स में भारत को कांस्य पदक दिलाने वाली पूजा गेहलोत  जी को गोल्ड न ला पाने का बहुत दुःख हो रहा है।और कहीं न कहीं ये होना गलत नहीं है। क्योकि उन्होंने जी तोड़ दिन रात मेहनत की होगी। और गोल्ड पाने के लिए प्रयास भी किये। लेकिन इस बार के कामनवेल्थ गेम्स में उन्हें कांस्य पदक हासिल किया। और इस पर भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा कि पूजा, आपका मेडल जश्न के लिए कहता है, माफी के लिए नहीं।,आपकी जीवन यात्रा हमें प्रेरणा देती है. आपकी सफलता हमें खुश करती है।आपके जीवन में काफी महान चीज़ें करने को लिखी हैं।आप हमेशा यूं ही चमकती रहे”।

अगली बार गोल्ड लेकर आउंगी
अगली बार गोल्ड लेकर आउंगी

इसे भी अवश्य पढ़े:-मिलिए इस करोड़पति फ़कीर से,लाखो गरीब बेटियों की पढ़ाई लिए हर साल दान करते है, 50लाख रु०,दिल से नमन है घासीराम जी कोअमेरि…

अगली बार गोल्ड लेकर आउंगी

गोल्ड मैडल न जीत पाने पैर पुजा गेहलोत ने सभी से माफी मांगी। और उन्होंने कहा कि मैं हार गई, मुझे इसका दुख है. मैं देशवासियों से माफी मांगती हूं। मुझे उम्मीद थी कि, मैं यहां राष्ट्रगान बजवाउंगी, लेकिन हार गई। अभी तो ब्रॉन्ज़ मेडल मिला है, मैं अपनी गलतियों पर काम करूंगी। और इसके बाद मोदी जी का ये ट्वीट उनके लिए प्रोत्साहित रहा है।

गोल्ड मैडल न जीत पाने पैर पुजा गेहलोत ने सभी से माफी मांगी।
गोल्ड मैडल न जीत पाने पैर पुजा गेहलोत ने सभी से माफी मांगी।

इसे भी अवश्य पढ़े:-पूरे इंडिगो एयरलाइन्स के मालिक की सादगी के दीवाने हुए लोग, हाई-फाई मेंहगे बिस्कुट नहीं, 5 रुपए का पार्ले बिस्कुट खा…

इस प्रकार की ओर भी रोचक खबरे जानने के लिए हमारी वेबसाइड Samchar buddy .जुड़े रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *