अमेरिका के विमान संग्राहलय का हिस्सा बनी देश की ये हवाई परी, उत्तरी ध्रुव के ऊपर हवाई इंडिया विमान उड़ाकर रचा इतिहास

हासिल किया अमेरीका के विमान संग्रहालय में स्थान

हमारे देश की महिलाये भी किसी से कम नहीं है। और हर क्षेत्र में आगे रहती है। और महिलाये भी किसी से भी कम नहीं होती है। और हर क्षेत्र में सफलताओं की कहानी भी गढ़ती ही रहती है।और आज हम एक ऐसी ही महिला का उदाहरण लेकर आये है , कैप्टन जोया अग्रवाल जो कि पेशे से तो एक भारीतय महिला पायलट है। और उन्होंने उत्तरी ध्रुव के ऊपरी इलाके में हवाई उड़ान भरकर एक इतिहास रच दिया है ,और वे भारत की हवाई विमान में इस यात्रा को पूरा कर पायी है ,.और ये क्षण भारत के लिये बहुत ही गर्व का है। क्योकि भारत की इस बेटी ने अमेरिका के विमान संग्राहल में भी जगह हासिल की है ,और विश्व की पहली महिला है। और भारतीय है।

तय किया 16000 किलोमीटर की ऊंचाई को
तय किया 16000 किलोमीटर की ऊंचाई को

कैप्टन जोया अग्रवाल तय किया 16000 किलोमीटर की ऊंचाई को

बता दे कि, ज़ोया अग्रवाल ने अमेरिका के उत्तरी ध्रुव पर करीब 1600 किलोमीटर की उन्होंने का रिकॉर्ड कायम किया है। वे ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला कैप्टन है। वाकई में भारत की बेटिया किसी से भी पीछे नहीं है। और स्वयं की पहचान करना जानती है। और सच में ऐसा जानकर भी ख़ुशी होती है। क्योकि इससे पहले किसी भी महिला ने ऐसा नहीं किया है। जो कि इतनी ऊंचाई पर सफलता पूर्वक उड़ान भरी हो।

ज़ोया अग्रवाल अमेरिका के बेस्ट विमान संग्राहलय में एक विशेष स्थान हासिल की है
ज़ोया अग्रवाल अमेरिका के बेस्ट विमान संग्राहलय में एक विशेष स्थान हासिल की है

इसे भी अवश्य पढ़े:-अनोखे ठाट है अम्बानी परिवार के भी, मुकेश अम्बानी ने अपने बेटे को तोहफे में देने के लिए खरीद डाला दुनिया का सबसे महं…

हासिल किया अमेरीका के विमान संग्रहालय में स्थान

बता दे कि ज़ोया अग्रवाल पहले ऐसी महिला भी बन गयी है। जिन्होंने एक जीवित इंसान के तौर पर अमेरिका के बेस्ट विमान संग्राहलय में एक विशेष स्थान हासिल की है और अमेरिका ने भी इसकी खूब सराहना की है। और ये भारत के लिये महत्वपूर्ण समय है। क्योकि भारत की महिला भी विदेश मे नाम रोशन कर सकती है। जोया अग्रवाल के नेतृत्व में एयर इंडिया की एक अखिल महिला पायलट टीम ने उत्तरी ध्रुव को कवर करते हुए अमेरिका में सैन्य फ्रांसिस्को  से भारत के बेंगलुरु शहर तक दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग को कवर किया है। जिसके बाद वे सुर्खियों में आ गयी है।

जोया अग्रवाल के नेतृत्व में एयर इंडिया की एक अखिल महिला पायलट टीम ने उत्तरी ध्रुव को कवर किया है
जोया अग्रवाल के नेतृत्व में एयर इंडिया की एक अखिल महिला पायलट टीम ने उत्तरी ध्रुव को कवर किया है

इसे भी अवश्य पढ़े:-क्या अब सरकारी कर्मचारियों को नहीं मिलेगा महंगाई भत्ता? सरकार लेने वाली है ये निर्णयऐसे ही दिलचस्प खबरों के लिए जुड़े रहिये समाचार बडी से, धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *